केजरीवाल के संबोधन के बाद दिखा कार्यकर्ताओं में उत्साह - DAINIK JHROKHA

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, May 26, 2019

केजरीवाल के संबोधन के बाद दिखा कार्यकर्ताओं में उत्साह

अरविन्द केजरीवाल मुख्यमंत्री दिल्ली 



नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव में हार के बाद कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल और वरिष्ठ नेताओ ने रविवार को खुद मैदान में उतरे। उन्होंने कार्यकर्ताओं को लोकसभा का चुनाव मोदी और राहुल के बीच का होने की बात कहकर इसे बड़ा चुनाव बताया। इसके साथ ही फरवरी 2020 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाने का मंत्र दिया।





पंजाबी बाग क्लब में आयोजित सम्मेलन में दिल्ली प्रदेश के कार्यकर्ताओं में उत्साह भरने के लिए केजरीवाल ने 'भारत माता जय' के साथ संबोधन की शुरुआत की। इसके माध्यम से उन्होंने कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद स्थापित किया। साथ ही प्रदेश सरकार के काम गिनाकर जनता के बीच जाने के लिए उन्हें उत्साहित किया। सम्मेलन के दौरान आम आदमी पार्टी के कायकर्ताओं ने दिल्ली में तो केजरीवाल का नारा दिया। केजरीवाल ने संबोधन के दौरान अन्ना हजारे को भी याद किया और बताया कि वह कहा करते थे कि राजनीति में आने पर अपमान का घूंट भी पीने की क्षमता होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने गलती करने के बाद भी कार्यकर्ताओं को माफ करने की बात कही।


यह भी पढ़े - क्या प्रधानमंत्री पहले से फ़िक्स इंटरव्यू दिया करते थे? - रवीश कुमार



केजरीवाल का सम्बोधन 


पंजाबी बाग क्लब के खचाखच भरे मैदान में सभी वरिष्ठ नेताओं का संबोधन खत्म होने के बाद मंच पर आए अरविद केजरीवाल काफी सहज, संतुलित और आत्मविश्वास से भरे और उत्साहित भाव से कार्यकर्ताओं के सामने पेश आए। लोकसभा चुनाव में श्री नरेंद्र मोदी को बधाई भी दिए। लोकसभा चुनाव में दिल्ली में महज 18 फीसद वोट मिलने से निराश कार्यकर्ताओं की मेहनत को सलाम करते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता सबसे मजबूती से लड़े। हालांकि, परिणाम हमारी सोच के अनुरूप नहीं आए, इससे निराश होने की जरूरत नहीं है। आप के लिए दिल्ली में कोई नकारात्मकता नहीं थी। देश में एक अलग आंधी बह रही थी। दिल्ली भी उससे अछूती नहीं रही। इसी कारण परिणाम हमारे पक्ष में नहीं आए। अब जनता भी कह रही है कि विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को ही वोट देंगे। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वह 2020 में जनता के पास जाकर कहें कि बड़ा चुनाव नहीं, अब विधानसभा चुनाव है। इसमें आम आदमी पार्टी के काम को वोट दें। आपको 2015 से बड़ी सफलता मिलेगी। 





केंद्र सरकार पर केजरीवाल का तंज 


मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि मेरे समेत कई मंत्री और विधायक की जांच सीबीआइ और प्रवर्तन निदेशालय से हो चुकी है। एक पैसे का भ्रष्टाचार नहीं मिला। हम तो कहते हैं कि एक-दो जांच एजेंसी हमें भी देकर देखें। फिर कितने और किन-किन के भ्रष्टाचार हम निकालेंगे।


यह भी पढ़े - क्या 2019 के चुनाव में मैं भी हार गया हूं - रवीश कुमार




आम आदमी पार्टी के लिए काम करने का मतलब है, देश के लिए काम करना। मैं कार्यकर्ताओं को कहना चाहता हूं कि आपको गर्व होना चाहिए कि आप देश के लिए काम कर रहे हैं। अगर फरवरी 2020 में जनता ने भाजपा या कांग्रेस को चुन लिया तो दिल्ली फिर बर्बाद हो जाएगी। इसी कारण लोग कह रहे हैं 2020 में केजरीवाल। बस आप अपनी मायूसी खत्म करें। हसंते हुए लोगों के बीच जाइए। 






भाजपा के दिए नारे को आगे बढ़ाया : सौरभ भारद्वाज


पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा ने ही नारा दिया था कि केंद्र में मोदी, दिल्ली में तो केजरीवाल। भाजपा के उसी नारे को हम आगे बढ़ा रहे हैं। 




गोपाल राय का जोरदार सम्बोधन 


आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने अपने सम्बोधन में जोरदार उत्साहवर्धक भाषणों के जरिये कार्यकर्ताओ को उत्साहित किया।  उन्होंने कहा कि पार्टी देश के लिए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन करना चाह रही थी। चुनाव परिणाम के बाद यह फीडबैक आया है कि गठबंधन की कोशिश के कारण पार्टी को नुकसान हुआ है। इस कारण पार्टी ने निर्णय लिया है कि विधानसभा चुनाव में किसी से गठबंधन नहीं किया जाएगा। 






कोर्ट से बरी हो चुके हैं आप के विधायक


राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री पर सीबीआइ का छापा पड़ा। 25 विधायकों पर फर्जी केस हुए। अब तक 19-20 विधायक कोर्ट से बरी हो चुके हैं। उनके खिलाफ कोई सुबूत नहीं मिला। 




 मनीष सिसोदिया का सम्बोधन 


दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि चुनाव के बाद अन्य पार्टियां आराम फरमा रही हैं। हम पसीना बहा रहे हैं। आज से 2020 की लड़ाई शुरू कर दें। यह लड़ाई टीम केजरीवाल लड़ेगी। निजी स्कूल को फीस बढ़ाने से सिर्फ केजरीवाल सरकार ही रोक सकती है।






कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान गीत गाकर कार्यकर्ताओं में उत्साह भरा गया। इस दौरान दिलीप पांडे, राखी बिड़ला, सतेंद्र जैन समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मंच पर मौजूद थे। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' से सम्मेलन का समापन कर कार्यकर्ताओं में देशभक्ति का भी जोश भरा।



No comments:

Post a Comment

Thanks For Visit my site

Post Top Ad